आओ बनायें अपना मध्यप्रदेश, बुनियादी सुविधाओं के लिये कटिबद्ध

आओ बनायें अपना मध्यप्रदेश, बुनियादी सुविधाओं के लिये कटिबद्ध


लोगों को बुनियादी सुविधाओं के लिये कटिबद्ध प्रयास 

मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा 12 करोड़ के राहत कार्यों का शिलान्यास 
toc news internet channel

भोपाल : बुधवार, फरवरी 5, 2014, मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि समाज के सभी वर्गों को शिक्षा, स्वास्थ्य, मकान सहित सभी सुविधाएँ उपलब्ध करवाने के लिये राज्य सरकार द्वारा कटिबद्ध प्रयास किये गये हैं। शासन की योजनाओं का अधिकतम लाभ पात्र व्यक्तियों तक पहुँचाने में कोई कसर नहीं रखी जायेगी। श्री चौहान आज हरदा में 'आओ बनायें अपना मध्यप्रदेश' सम्मेलन को सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने 11 करोड़ 94 लाख रुपये लागत के 10 कार्य का शिलान्यास किया। उन्होंने फसल क्षति राहत के रूप में किसानों को 115 करोड़ 23 लाख रुपये की राहत का प्रतीक स्वरूप वितरण किया। मुख्यमंत्री ने सम्मेलन में 3 लाख 13 हजार 968 हितग्राही को 52 करोड़ 80 लाख से अधिक की सहायता राशि का वितरण किया। इस अवसर पर लोक निर्माण मंत्री श्री सरताज सिंह भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार सामाजिक न्याय पर विशेष ध्यान दे रही है। उन्होंने समाज के सभी वर्ग से प्रदेश के विकास और जन-कल्याण के कार्यों में सक्रिय रूप से भागी बनने का आहवान किया। उन्होंने कहा कि शासकीय और अशासकीय विद्यालयों में 12वीं कक्षा में 85 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले विद्यार्थियों को नि:शुल्क लेपटाप वितरित किये जायेंगे। कॉलेज में प्रवेश लेने वाले विद्यार्थी को नि:शुल्क स्मार्ट फोन दिये जायेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि महिला सशक्तिकरण के लिये भरपूर प्रयास किये जा रहे हैं। उन्होंने लोगों से बेटियों के साथ समान व्यवहार करने का आहवान किया। श्री चौहान ने कहा कि मुख्यमंत्री विवाह एवं निकाह योजना में दी जाने वाली राशि को 15 हजार से बढ़ाकर 25 हजार रुपये कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि अगले पाँच वर्ष में गरीबों के लिये 15 लाख मकान बनाये जायेंगे।

मुख्यमंत्री ने उपस्थित जन-समुदाय से पेड़ लगाने, पानी का समुचित उपयोग करने, बच्चों को स्कूल भेजने, स्वच्छता बनाये रखने, गाँव को नशामुक्त बनाने और महिलाओं को पूर्ण सम्मान देने का आहवान किया। उन्होंने लोगों को मध्यप्रदेश के विकास में सहभागी बनने का संकल्प भी दिलाया। मुख्यमंत्री ने कलेक्टर को निर्देश दिये कि एक रुपये किलो की दर से गेहूँ और चावल देने की योजना में कोई भी पात्र हितग्राही छूटना नहीं चाहिये। खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिये हरसंभव प्रयास किये जा रहे हैं। किसानों की मेहनत का ही परिणाम है कि प्रदेश को इस साल लगातार दूसरी बार भारत सरकार द्वारा कृषि कर्मण अवार्ड दिया जा रहा है।

सम्मेलन को सांसद सुश्री ज्योति धुर्वे और विधायक श्री संजय शाह ने भी संबोधित किया।
Posted by jasika lear, Published at 05.10

Tidak ada komentar:

Posting Komentar

Copyright © THE TIMES OF CRIME >