दिग्गी सरकार ने प्रदेश को बर्बाद किया : चौहान

दिग्गी सरकार ने प्रदेश को बर्बाद किया : चौहान

नरसिंहपुर से सलामत खान की रिपोर्ट.......
                                                      (टाइम्स ऑफ क्राइम)
toc news internet channel

नरसिंहपुर। बीते दिवस मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने देर रात नरसिंहपुर जनपद मैदान में विशाल सभा को को संबोधित करते हुए कहा कि जिन किसानों की सोयाबीन की फसल खराब हुई है उन्हें नियमों को शिथिल करते हुये खाद बीज के लिये हर संभव सहायता देते हुए उन्हें फसल बीमा का लाभ दिलाया जायेगा। उन्होने कहा कि हमने गत 10 वर्षों में प्रदेश को परिवार मानकर सरकार चलाई है, कांग्रेस को प्रदेश और प्रदेशवासियों के विकास से कोई लगाव नहीं था। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में 1962 से एक भी मेडिकल कॉलेज नहीं खुला। इस साल तीन मेडिकल कॉलेज खुल रहे हैं।

दिग्गी सरकार ने प्रदेश को किया था बर्बाद

मुख्यमंत्री ने कांग्रेस शासन पर प्रहार करते हुये कहा कि दिग्विजय सिंह सरकार ने प्रदेश को बर्बाद कर दिया था। शिक्षा व्यवस्था को चौपट कर भविष्य की पीढ़ी को नुकसान पहुंचाने का काम किया था। भाजपा सरकार ने 24 घंटे बिजली देने का वादा किया था उसे पूरी मेहनत से पूरा कर दिखाया। अगले पांच सालों में 20 हजार मेगावॉट बिजली बनेगी। वर्तमान में 10,600 मेगावॉट बिजली बन रही है जबकि कांग्रेस के जमाने में केवल 2900 मेगावॉट बिजली मिलती थी। खेती को लाभकारी बनाते हुये खेती के लिये कर्ज की दर 18 प्रतिशत से घटाकर जीरो प्रतिशत कर दी गई है। किसानों के हित में बिजली मीटर रीडिंग को समाप्त कर दिया है। गेहूं और धान की 150 रूपये प्रति क्विंटल की दर से बोनस देकर खरीदी की जा रही है।

मप्र में चीन से टक्कर लेने की क्षमता

मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले पांच सालों में छोटे उद्योग का जाल बिछाया जायेगा। खेती और उद्योग को एक साथ बढ़ावा देकर युवाओं को जोड़ा जायेगा। मध्यप्रदेश में लघु उद्योगों के क्षेत्र में चीन से टक्कर लेने की क्षमता है। उन्होंने युवा वर्ग का आव्हान किया कि वे नये मध्यप्रदेश को बनाने में आगे आये। मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना का लाभ उठाये। सरकार ऋण की गारंटी लेने के साथ कई मामलों में पूरी मदद करेगी। उन्होंने कहा कि युवा वर्ग ही विकसित मध्यप्रदेश की बुनियाद रखेगा। सरकार उनकी पढ़ाई-लिखाई की जिम्मेदारी लेगी। मंचा पर उनकी धर्मपत्नि साधना सिंह, कााजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, राकेश सिंह, पूर्व केन्द्रीय राज्य मंत्री प्रहलाद पटैल, अपेक्स बैंक उपाध्यक्ष कैलाश सोनी सहित अनेक नेता गण मौजूद  थे।

राहुल गांधी माफी मांगें या पीएम दें इस्तीफा

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी द्वारा अध्यादेश फाडऩे के बयान के संदर्भ में कहा कि यदि प्रधानमंत्री को जरा सी भी लज्जा और स्वाकिामान है तो उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिये। उन्होंने कहा अध्यादेश अच्छा है या बुरा यह संसद में तय होना चाहिये। इस संदर्भ में अपनी पार्टी के भीतर चर्चा करना चाहिये थी। इन्होंने सार्वजनिक रूप से प्रधानमंत्री के बारे में कटु शब्दों का इस्तेमाल कर देश की गरिमा पर आघात किया। इसके लिये राहुल गांधी को माफी मांगना चाहिये। श्री चौहान ने कहा कि कांग्रेस देश को बर्बाद कर रही है। डीजल, पेट्रोल के दाम बढ़ गये हैं। महंगाई दिन पर दिन बढ़ रही है। उन्होंने दिग्विजय सिंह का नाम लिये बगैर कहा कि उन्होंने प्रदेश का बंटाधार किया उनका नाम लेने से स्रान करना पड़ता है।

Posted by jasika lear, Published at 05.19

Tidak ada komentar:

Posting Komentar

Copyright © THE TIMES OF CRIME >