साहब ! गांव बदनाम करने की हो रही साजिश...........

साहब ! गांव बदनाम करने की हो रही साजिश...........

लगभग दो दर्जन ग्रामीणों ने दिया कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन
खबर की विश्वसनीयता पर उठा सवाल
toc news internet channel 
                                                    नरसिंहपुर से सलामत खां की रिपोर्ट..
 (नरसिंहपुर // टाइम्स ऑफ क्राइम) संपर्क:-  9424719876

नरसिंहपुर। खंडवा की जेल से फरार आतंकियों में से एक आतंकी को क्यों रांकई का निवासी बताया जा रहा है। क्यों गांव की छवि खराब करने की कोशिश की जा रही है कुछ इस तरह के सवाल शनिवार की दोपहर ग्राम रांकई के ग्रामवासियों ने कलेक्टर से पूछे। ग्रामवासियों ने कलेक्टर से यह भी कहा कि कुछ अखबार प्रतिद्वंदता और सनसनीखेज खबरों को प्रकाशित कर भ्रम की स्थिति निर्मित कर रहे हैं जिससे ग्रामीणजन आहत व आक्रोशित हैं। सवाल पर जिला कलेक्टर ने ग्रामीणों को आश्वस्त किया है कि अब इस तरह का कोई कार्य नहीं होगा।

क्या है मामला-

दरअसल कुछ दिन पूर्व खंडवा की जेल से प्रतिबंधित संगठन सिमी के 6 आतंकी जेल की दीवार फांदकर फरार हो गए थे। जानकारी के मुताबिक इन आतंकियों में 1 आतंकी मुंबई, 4 खंडवा व 1 आतंकी जिला नरसिंहपुर की तहसील करेली में रह चुका है। आतंकियों के फरार होने की खबर को सभी मीडियाकर्मियों ने प्रमुखता से तरजीह दी लेकिन एक समाचार पत्र ने आतंकी एजाजुद्दीन को ग्राम रांकई का निवासी बताया।

करेली में रह चुका है एजाज-

गौरतलब है कि खंडवा जेल से फरार आतंकियों में से एजाज पूर्व में तहसील करेली के नरसिंह वार्ड में निवास करता था जिससे यह कयास लगाए जा रहे थे कि यहां अन्य लोग भी उसके संपर्क में हो सकते हैं जिसे देखते हुए जिला पुलिस ने चौकसी बढ़ा दी और संदिग्ध स्थानों व व्यक्तियों पर सतत निगरानी शुरू कर दी।

गांव की छवि हो रही धूमिल-

ग्रामवासियों ने कलेक्टर संजीव को दिए अपने आवेदन में यह उल्लेखित किया है कि बिना सोचे समझे एक आतंकी का नाम उनके रांकई क्षेत्र से जोड़ा जाना यहां के निवासियों की छवि को धूमिल कर रहा है।

हो कार्यवाही-

सामूहिक रूप से दिए अपने आवेदन में ग्रामवासियों ने विनम्रता पूर्वक आग्रह किया है कि संवेदनशील माहौल को देखते हुए संबंधित समाचार पत्र व उसके रिपोर्टर पर सख्त व उचित कार्यवाही की जाए और समाचार पत्र तथा रिपोर्टर को यह हिदायत दी जाए कि खबर प्रकाशन के नियमों को मद्देनजर रखकर खबरों का प्रकाशन किया जाए। आवेदन में यह भी लिखा गया है कि अखबार बगैर किसी जांच पड़ताल के सुनी-सुनाई बातें न छापे जिससे किसी समुदाय तथा विशेष ग्राम की छवि धूमिल हो।

इन्होंने सौंपा ज्ञापन-

उपरोक्त संदर्भ में सरपंच रांकई सहित कदरूद्दीन, कलाम अनवर, मो. इमरान, प्रभुदयाल, रिजवान, मो. खालिद, जुल्फखार, शेख शमशाद, असलम, मो. जुल्फकार अली, मो. इलयास, कुतुबुद्दीन, मो. हाशिम, द्वारका प्रसाद, मो. अकबर, मो. इसरार, फिरोज, अजदरूद्दीन, अमीनउद्दीन, सरताज, अब्दुल रज्जाक, जब्बार, मुजफ्फर, कयामुद्दीन, मुर्तजाअली, हनीफ कदरूद्दीन आदि ने ज्ञापन सौंपते हुए कार्यवाही की मांग की है।

Posted by jasika lear, Published at 07.46

Tidak ada komentar:

Posting Komentar

Copyright © THE TIMES OF CRIME >