बांसकुआरी में लाखों की डकैती, लुटेरों ने परिजनों को जमकर पीटा

बांसकुआरी में लाखों की डकैती, लुटेरों ने परिजनों को जमकर पीटा

पांच लोग गंभीर रूप से घायल, 
पांच लाख के सोने-चांदी के जेवरात ले उड़े, 
पुलिस सुराग लगाने में जुटी
toc news internet channel 
                                                    नरसिंहपुर से सलामत खां की रिपोर्ट..
 (नरसिंहपुर // टाइम्स ऑफ क्राइम) संपर्क:-  9424719876

नरसिंहपुर। जिला मुख्यालय से लगे ग्राम बांसकुआरी में 5 अक्टूबर की रात करीब 11 बजे एक कृषक के घर घुसकर कर डकैतों ने परिजनों के साथ जमकर मारपीट की और सोने-चांदी के जेवरात लूट ले गये। 

प्राप्त जानकारी के मुताबिक ग्राम बांसकुआरी निवासी अरविंद उर्फ राजू पिता मुरारी लाल जाट आयुु 45 वर्ष के घर 5 अक्टॅूबर की रात करीब 11 बजे हाफपेंट एवं टीशर्ट पहने छह युवक छप्पर हटाकर घर में दाखिल हुये और दरवाजा तोड़कर एक कमरे घुस रहे थे तभी अरविंद के पिता मुरारी जाट 85 वर्ष आवाज लगाते हुये डकैतों के नजदीक पहुंचे तो उन्हें सिर पर ईंट मारकर बेहोश कर दिया। इसी बीच आवाज सुनकर अरविंद, उनकी पत्नि माया व दोनों पुत्र शिवम और शुभम भी आ गये। जिनके ऊपर लकड़ी के पटिये से ताबड़तोड़ अंदाज में सिर पर प्रहार किये गये और उन सभी को एक कमरे में बंद कर दिया। इसी बीच आरोपियों ने सभी के मोबाईल इकठ्ठा कर उन्हें तोड़ दिया तथा घर में रखी नगद राशि की पूछताछ करने लगे। डकैतों के इरादे भांपकर अरविंद ने घर में रखे करीब 16 तोला सोने एवं एक किलो चांदी के जेवरात तथा नगद 5 हजार उन्हें सौंप दिये। 

लेकिन बार-बार डकैत परिजनों ने नगद रूपयों की मांग कर करते रहे। पीडि़तों के लगातार इंकार के बाद जब उन्हें भरोसा हो गया तब कहीं जाकर पीडि़त परिवार को डकैतों से राहत मिली। करीब एक से डेढ़ घण्टे तक खूनी तांडव के बाद सभी को घायलावस्था में ही किचिन में बंद कर भाग खड़े हुये। जाने के पहले उन्होंने उसी घर में इत्मिनान से खाना खाया और वारदात को अंजाम दिया। आरोपियों के भाग जाने के बाद शुभम ने किसी तरह पेंचकस द्वारा दरवाजे के कुंदे के स्क्रू खोले और घर के बाहर आकर मोटरसाइकिल से सुनील जाट नामक रिश्तेदार के घर पहुंचा और संपूर्ण घटनाक्रम की जानकारी दी। बाद में ग्रामीणों की सहायता से घायलों को जिला चिकित्सालय में भरती कराया गया और पुलिस को वारदात की जानकारी दी।

इनका कहना है....

          छप्पर खोलकर डकैत घर में दाखिल हुये और ताबड़तोड़ तरीके से पटियानुमा लकड़ी से हमला बोल दिया। वे घर में नगदी कहां रखी है इस संबंध में पूछ रहे थे। आरोपी 16 तोला सोना, एक किलो चांदी व कुछ नगदी ले गये।     
अरविंद जाट पीडि़त

           पुलिस के हाथ कई तरह के सुराग लगे है सूक्ष्मता से सभी बिन्दुओं की जांच की जा रही है। संभवत: वारदात को अंजाम देने वाले सभी बाहरी व्यक्ति होंगे क्योकिं उन्होंने अपना चेहरा भी नहीं ढांक रखा था। किंतु स्थानीय व्यक्ति की संलिप्तता हो सकती है।
                                                        नरेश शर्मा एसडीओपी नरसिंहपुर
Posted by jasika lear, Published at 07.33

Tidak ada komentar:

Posting Komentar

Copyright © THE TIMES OF CRIME >