मोदी की रैली से पहले पटना में बम ब्लास्ट

मोदी की रैली से पहले पटना में बम ब्लास्ट

मोदी की रैली से पहले पटना में 8 बम ब्लास्ट, 5 मरे

toc news internet channel

पटना।। नरेंद्र मोदी की रैली से पहले पटना में हुए बम ब्लास्ट में 5 लोग मारे गए हैं। बिहार के डीजीपी ने कहा कि पटना में कुल 8 धमाके हुए और इसमें 5 लोग मारे गए हैं। एक धमाका रैली के बाद बम को निष्क्रिय करते हुए हुआ। इस हादसे में करीब 66 लोग घायल बताए जा रहे हैं। पटना के पीएमसीएच हॉस्पिटल में घायलों को भर्ती किया गया है। डॉक्टरों ने भी 5 मौत पुष्टि की है। नरेंद्र मोदी की रैली स्थल पर 6 धमाके और रेलवे स्टेशन पर 2 धमाके हुए। सुरक्षा बलों को आशंका है कि मृतकों की संख्या और बढ़ सकती है। मोदी की रैली के बाद धमाके से जुड़ी स्थिति और साफ होने की उम्मीद है।

गौरतलब है कि पटना में मोदी रैली की वजह से भारी संख्या में लोग ट्रेनों से भी आ रहे थे। इस कारण स्टेशन पर भी काफी भीड़ थी। रेल एसपी उपेंद्र सिन्हा ने बताया कि रविवार सुबह 10 बजे यह हादसा हुआ। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री आरपीएन सिंह ने कहा कि पटना में पहला ब्लास्ट सुबह 9:30 बजे हुआ। इसके बाद गांधी मैदान के आसपास 6 ब्लास्ट हुए। आरपीएन सिंह ने कहा कि हम इन धमाकों की कड़ी निंदा करते हैं।

उन्होंने कहा कि बम ज्यादा ताकतवर नहीं थे। सिंह कहा कि गांधी मैदान के चारों तरफ धमाके हुए हैं। केंद्र बिहार सरकार के संपर्क में है और एनआईए की टीम भी भेज चुकी है। मोदी ने भी रैली खत्म करते हुए लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने रैली में आए लोगों से कहा कि वे घर जाने में जल्दबाजी नहीं करें।

पटना में मोदी की रैली से पहले हुए धमाके पर दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर एक और धमाका कर दिया है। उन्होंने ट्वीट किया है, 'मोदी की रैली के दिन पटना में धमाका क्या महज संयोग है? यह नीतीश सरकार के लिए चुनौती है कि दोषी को पकड़े।' इससे पहले बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा था कि मैं फौरी प्रतिक्रिया नहीं दे सकता।

उन्होंने कहा कि फिलहाल हमें विस्तृत सूचना का इंतजार करना चाहिए। मोदी ने कहा कि दिवाली का वक्त है ऐसे में कोई पटाखा भी हो सकता है। उन्होंने यह भी कहा कि डीएम को घटना की की जानकारी नहीं थी। मैंने उन्हें फोन कर जानकारी दी।
Posted by jasika lear, Published at 07.24

Tidak ada komentar:

Posting Komentar

Copyright © THE TIMES OF CRIME >