नारायण साईं फ़रारी में छपवा रहा है विज्ञापन

नारायण साईं फ़रारी में छपवा रहा है विज्ञापन

पिछले चार पांच दिनों से पुलिस से आँख मिचौली खेल रहे नारायण साईं ने अखबार में विज्ञापन देकर अपनी सफाई दी है. नारायण साईं ने विज्ञापन के ज़रिये कहा है कि वो भागने वालों में से नहीं हैं, वो कानूनी लड़ाई लड़ने को तैयार हैं. नारायण साईं ने गुजरात के दो स्थानीय अखबारों में ये विज्ञापन दिया है.
आपको बता दें कि सूरत की दो बहनों ने आसारराम और उनके बेटे नारायण साईं पर रेप के संगीन आरोप लगाए थे. आसाराम तो जोधपुर जेल में बंद हैं, पर नारायण साईं लापता हैं. narayan sai wedding
नारायण साईं ने सूरत के दो स्थानीय अखबार गुजरात गार्डियन ओर गुजरात मित्र में अपने वकील कल्पेश देसाई के जरिये लगे आरोपों पर अपना पक्ष रखा है. ये विज्ञापन नारायण साईं की सार्वजनिक विनती के तौर पर छापी गयी है.

गुजराती में छपे इस विज्ञापन में लिखा है, ‘हमारे क्लाइंट नारायण साईं और आसाराम बापू निर्दोष हैं, उनपर जो आरोप लगाये गये हैं, वो इतने सालों बाद गलत तरह से खड़े किये गये हैं. शिकायत के सभी आरोप बेबुनियाद हैं. लंबे समय के बाद किसी के इशारों पर ये आरोप गलत तरह से खड़े किये गये हैं. शिकायत में सारी सच्चाई के साथ छेड़छाड़ की गई है. हम इस मामले में कानूनी तौर पर लड़ाई लड़ने को तैयार हैं. हम भागने वाले नहीं हैं. सत्य को सामने लाने के लिये जो भी न्यायिक कार्यवाही जरूरी होगी, उसे करेंगे. जरूरत पड़ने पर हम हाईकोर्ट, सुप्रीम कोर्ट ओर मानव अधिकार मंच तक जाने को तैयार हैं.’
अब सोचने वाली बात ये है की नारायण साईं अपने को भगोड़ा नहीं कहता, ये भी कह रहा है कि वो सुप्रीम कोर्ट और मानवाधिकार मंच तक जाएगा, लेकिन इसके बावजूद वो कानून के डर से भागा फिर रहा है. कानून का दरवाजा खटखटाने की बात करने वाला नारायण साईं, आखिरकार कानून प्रक्रिया से डर कर क्यों भाग रहा है ?narayan sai wedding1
ये नारायण साईं का नाटक है जिसे समझने की जरुरत है, वो अपने ऊपर से प्रशासन का ध्यान हटाकर भारत से दूर निकल भागने की फिराक में है या भाग चुका है.

महाझूठा है नारायण साईं, हो चुकी है इसकी शादी …

आसाराम का सुपुत्र और कई मामलों में बलात्कार और अप्राकृतिक यौनाचार का आरोपी नारायण साईं, कई मौकों पर यह कहता आया है की उसकी शादी अभी तक नहीं हुयी है और वो ब्रह्मचारी है. अपने आपको ब्रह्मचारी कहने वाले नारायण साईं की तस्वीर आप सभी के सामने है, आप इस तस्वीर में देख सकते हैं कि नारायण साईं विवाह मंडप में अपने दुल्हन के साथ बैठा हुआ है.
चलिए, इस बात का प्रमाण तो मिल गया की नारायण साईं का विवाह हो चुका है, लेकिन एक सवाल ये उठता है की आखिरकार नारायाण साईं की दुल्हन (जो तस्वीर में नारायण साईं के साथ बैठी हुयी है) वो कहाँ गयी ? क्या इसको भी आसाराम और नारायण साईं ने मौत के घाट उतार दिया ? इस बाबत भी पुलिस को गहन जांच करनी चाहिए.


sabhar- mediadarbar
Posted by jasika lear, Published at 07.12

Tidak ada komentar:

Posting Komentar

Copyright © THE TIMES OF CRIME >