स्कूली बच्चों का रैलियों में बेजा इस्तेमाल

स्कूली बच्चों का रैलियों में बेजा इस्तेमाल

समानता दल के प्रदेशाध्यक्ष ने की शिकायत,

कहा-बच्चों का किया जा रहा शोषण

प्रतिनिधि // शेख अज्जू (नरसिंहपुर //टाइम्स ऑफ क्राइम)    
प्रतिनिधि से संपर्क:- 94243 05086
toc news internet channel 

नरसिंहपुर। विधानसभा चुनाव के लिए आचार संहिता लगने के बाद जिले में 144 धारा लागू कर दी गई है। बावजूद इसके स्कूल-कालेजों में शिक्षक एवं प्राचार्यों द्वारा रैलियां निकालकर आचार संहिता का उल्लंघन किया जा रहा है। इस आशय की शिकायत राष्ट्रीय समानता दल युवा मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष एवं नरसिंहपुर विस क्षेत्र से समानता दल के प्रत्याशी योगेश सिंह कुशवाहा ने कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी को दिए गए ज्ञापन में की है। मोर्चा अध्यक्ष का कहना है कि शिक्षक एवं प्राचार्य स्कूल-कालेजों के छात्रों की रैलियां निकाल रहे हैं। जबकि इसके संबंध में कोई अनुमति नहीं ली गई है। नाबालिग छात्र-छात्राओं को भी रैली निकालने के लिए बाध्य किया जा रहा है। यह कार्य शोषण की श्रेणी में आता है। पार्टी ने इस मामले की जांच कर दोषी अधिकारियों-कर्मचारियों को दंडित किए जाने की मांग की है। शिकायत की प्रतियां आयुक्त राष्ट्रीय निर्वाचन एवं राज्य निर्वाचन आयोग को भी भेजी गई हैं।

अधिकारियों की मनमानी

उधर आमलोगों ने भी रैलियों में नाबालिग बच्चों को शामिल किए जाने पर नाराजगी जताते हुए कहा है कि अधिकारी मनमानी कर रहे हैं। उन्होंने नेताओं को भी कटघरे में खड़ा किया है और कहा है कि जब छोटी-छोटी बात पर नेताओं पर आचार संहिता उल्लंघन के मामले दर्ज हो रहे हैं तो अधिकारियों की मनमानी पर चुप्पी क्यों है।

Posted by jasika lear, Published at 02.39

Tidak ada komentar:

Posting Komentar

Copyright © THE TIMES OF CRIME >