लड़कियों को देखते ही पैंट खोल रहा लॉ ग्रैजुएट अरेस्ट

लड़कियों को देखते ही पैंट खोल रहा लॉ ग्रैजुएट अरेस्ट

toc news internet channel 

चेन्नै। चेन्नै में रविवार को एक लॉ ग्रैजुएट की शर्मनाक हरकतों ने युवतियों की नाक में दम कर दिया। चेन्नै के येरिकरई के मनाली कस्बे का रहने वाला यह युवक सड़क पर लड़कियों और महिलाओं को देखते ही अचानक उनके सामने आकर पैंट खोल रहा था। कई घंटे तक यह चलता रहा, लेकिन बाद में कॉलेज स्टूडेंट्स की शिकायत पर पुलिस ने उसे अरेस्ट कर लिया। पुलिस उसे मानसिक रूप से बीमार बता रही है।

पुलिस के मुताबिक सड़क पर खुलेआम महिलाओं के सामने अश्लील हरकतें करने वाले इस 22 वर्षीय युवक का नाम पुन्नियाकोडी है। उसने आंध्र प्रदेश के कॉलेज से लॉ की डिग्री ली है। वह अभी बेरोजगार है। पुन्नियाकोडी पर शनिवार को न जाने क्या सनक सवार हुई कि वह मोटरसाइकल से येरिकरई जा पहुंचा।

वह वहां सड़क के किनारे खड़ा हो गया। इसके बाद उसकी अश्लील हरकतों का सिलसिला शुरू हो गया। उसे जब भी सामने से युवतियां आती दिखतीं, वह अचानक उसके सामने आ जाता और अपनी पैंट खोल देता। यह सिलसिला काफी देर तक चलता रहा।

युवतियां उसकी हरकतों से बेहद डरी हुईं और आक्रोशित थीं, लेकिन वह कुछ नहीं कर पा रही थीं। इस मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी के मुताबिक कई घंटे बाद एक कॉलेज स्टूडेंट ने पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट दर्ज करवाई, जिसके बाद उसे अरेस्ट किया गया।

पुन्नियाकोडी को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे जुडिशल कस्टडी मे भेज दिया गया। पुलिस के मुताबिक वह कोर्ट को उसकी मानसिक हालत के बारे में बताकर मेडिकल जांच की मांग करेगी।

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने-आप साइट पर लाइव होते हैं। हमने फिल्टर लगा रखे हैं ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द या कॉमेंट लाइव न होने पाएं। लेकिन अगर ऐसा कोई कॉमेंट लाइव हो जाता है जिसमें अनर्गल व आपत्तिजनक टिप्पणी की गई है, गाली या भद्दी भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है, तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुनें और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते हुए उसे जल्द से जल्द हटा देंगे।
वा मानसिक रोग से पीड़ित नही बल्कि हम कायर है अगर पहली बार ही करने पर उसको लातो घुसो ओर डॅंडो से पेल दिया होता तो उसका रोग ठीक हो गया होता ओर आगे से कोई ओर भी बीमार होने से बच जाता !

Posted by jasika lear, Published at 03.13

Tidak ada komentar:

Posting Komentar

Copyright © THE TIMES OF CRIME >