पत्रकार दर दर की ठोकरे खाने को मजबूर

पत्रकार दर दर की ठोकरे खाने को मजबूर

toc news internet channel 

मध्यप्रदेश जन संपर्क विभाग भी बड़ा अनोखा है जीविका चलने वाले मिडिया संचालको को तो विज्ञापन देने में एडी चोटी का जोर लगवा देता है और अगर कोई प्रभात झा के सरकारी बंगले से वेब चलाये तो पहले माह ही माल बाटने लग जाता है कोई वेब सालों से संचातित हो रही है उनकी कोई पूछ ही नहीं,  जनसंपर्क मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा है उनसे लिखा लेने के बाद भी पत्र का महीनो पता नहीं चलता। वैसे भी मध्यप्रदेश के पत्रकारों का जनसंपर्क मंत्री लक्ष्मीकांत ने भट्टा बिठवा दिया है। पत्रकार दर दर की ठोकरे खाने को मजबूर है.

अब सरमन नगेले को ही ले लो ने जाने कोई सी किस पर ……. डाल राखी है लाखों के विज्ञापन दिए जाते है कुछ दिनों पहले 15 लाख के विज्ञापन दिये, अभी 6 लाख के विज्ञापन दिये, इनके लिए कोई नियम नहीं सरकारी जनता का माल है सेटिंग बाजों को दे दो।।।।।।

अब कोई हमको भी बता दो की कहा और किस्से सेटिंग होती है जन संपर्क विभाग में ताकि हम भी अपने लिए विज्ञापन मांग ले इनकी तरह.…।



Posted by jasika lear, Published at 21.56

Tidak ada komentar:

Posting Komentar

Copyright © THE TIMES OF CRIME >